सरदार सिंह-देवेंद्र झांझरिया को मिलेगा राजीव गांधी खेल रत्न

नई दिल्ली (22 जुलाई): सरकार ने राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन पुरस्कार, द्रोणाचार्य पुरस्कार और ध्यानचंद पुरस्कारों के विजाताओं का ऐलान कर दिया है। इस साल दो खिलाड़ियों को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के सम्मानित किया जाएगा, जबकि करीब 17 खिलाड़ियों को इस साल अर्जुन अवॉर्ड से नवाज़ा जाएगा। 4 खिलाड़ियों को खेल रत्न के लिए चुना गया है। जबकि तीन कोचों को लाइफ टाइम ध्यानचंद अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा।

पैरा एथलीट देवेंद्र झाझरिया और हॉकी खिलाड़ी सरदार सिंह को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से नवाजा जाएगा। देवेंद्र झाझरिया अब तक के भारत के सबसे सफल पैराएथलीट हैं। उन्होंने रियो ओलंपिक के दौरान जेवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीता था और 2004 में भी गोल्ड जीता था। 35 वर्षीय ये एथलीट इकलौता भारतीय है जिसने पैरालिंपक्स में दो गोल्ड मेडल जीते हैं।

वहीं सरदार सिंह का भारतीय हॉकी में बड़ा योगदान है। उन्होंने 2003-04 में पोलैंड के खिलाफ भारतीय जूनीयर टीम में डेब्यू किया था। 2006 में सरदार ने पाकिस्तान के खिलाफ सीनीयर टीम में डेब्यू किया था। सरदार सिंह अपनी फिटनेस लेवल के लिए पूरी दुनिया में जाने जाते हैं। सरदार को 2010 और 2011 में FIH ऑल स्टार टीम के 18 खिलाड़ियों में शामिल किया गया था। सरदार की अगुवाई में भारत ने न केवल पिछले एशियाई खेलों का स्वर्ण पदक जीता था बल्कि सीधे रियो ओलंपिक का टिकट भी पाया था। सरदार का शुमार दुनिया के बेहतरीन मिडफील्डरों में होता है। जब वह 2008 के सुल्तान अजलान कप में भारतीय कप्तान बने थे तो उस समय कप्तानी संभालने वाले वह सबसे युवा कप्तान बने थे।

29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक विशेष समारोह में इन खिलाड़यिों को इन पुरस्कारों से सम्मानित करेंगे। खेल रत्न में साढ़े सात लाख की पुरस्कार राशि दी जाएगी जबकि अर्जुन द्रोणाचार्य और ध्यानचंद में पांच-पांच लाख रूपये की पुरस्कार राशि दी जाएगी।