'आपत्तिजनक सीन नहीं हटाया तो यूपी में नहीं रिलीज होने देंगे 'पद्मावती''

नई दिल्ली ( 20 नवंबर ): फिल्म पद्मावती को लेकर घमासान मचा हुआ है। पद्मावती की रिलीज को लेकर देश में अलग-अलग जगहों पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। अब फिल्म पद्मावती की रिलीज की तारीख भी टल गई है, लेकिन बावजूद इसके संजय लीला भंसाली निर्देशित मूवी 'पद्मावती' का संकट टलने का नाम नहीं ले रहा है। अब यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि जब तक फिल्म में से आपत्तिजनक सीन नहीं हटाए जाएंगे पद्मावती को यूपी में रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। 

उधर, करणी सेना ने एक बार फिर 'पद्मावती' मूवी पर निशाना साधते हुए कहा है कि दीपिका ने भंसाली की नाक कटा दी है और फिल्म के लिए मिडल ईस्ट और दाऊद की तरफ से करोड़ों रुपये आए थे। 

फिल्म 'पद्मावती' का विरोध अब पूरी तरह से राजनीतिक रुख ले चुका है। पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने करणी सेना जैसे संगठनों के विरोध को समर्थन दिया। इसके बाद राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे ने केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति इरानी को पत्र लिख मांग की थी कि पद्मावती को जरूरी बदलाव के साथ रिलीज किया जाए।  

अब यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सीधे तौर पर कह दिया है कि बिना आपत्तिजनक सीन हटाए मूवी को यूपी में रिलीज नहीं होने दिया जाएगा। इससे पहले यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी 1 दिसंबर को पद्मावती को रिलीज नहीं करने की मांग कर चुके हैं। उन्होंने फिल्म रिलीज होने पर शांति भंग होने की आशंका जताई थी।