इंसानियत शर्मसार: चावल चुराने वाले युवक को पीट-पीट कर मार डाला, लोग लेते रहे सेल्फी

नई दिल्ली (24 फरवरी): केरल में एक आदिवासी युवक को चोरी के आरोप में भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला। युवक को 'मानसिक रूप से अस्वस्थ' बताया जा रहा है। गुरुवार को हुई इस हिंसक घटना में शामिल युवक ने घटना से कुछ देर पहले सेल्फी खींच कर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी, जिसके बाद पूरे प्रदेश में इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की गई है। पुलिस ने घटना में शामिल सात संदिग्धों में से 2 को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना के बाद ट्विटर पर एक व्यक्ति ने पोस्ट किया, “सीएमओकेरला...कृपया इस मामले में तत्काल कार्रवाई करें और दोषियों को कानून के कटघरे में खड़ा करें।” पीड़ित युवक मधु की मां ने शुक्रवार को पत्रकारों से कहा, “कल(गुरुवार) मेरे बेटे को कुछ लोगों ने अट्टापड्डी-अगाली के समीप चोर कहकर पीटा। उसके बाद उसे पुलिस के हवाला कर दिया, जहां उसकी हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में उसकी मौत हो गई। वह चोर नहीं था, बल्कि मानसिक रूप से अस्वस्थ था।”

भीड़ ने आरोप लगाया कि, तीन दिन पहले एक शख्स के यहां से खाने का सामान चोरी हुआ था. उन्होंने ए मधु पर इस चोरी को करने का आरोप लगाया. भीड़ ने रस्सियों से बंदे ए.मधु पर लात-घूंसे बरसाने के साथ ही उसे डंडों से भी पीटा. इस दौरान लोग उसके साथ सेल्फी लेते रहे. बाद में घटना की सूचना मिलने पर आगली पुलिस मौके पर पहुंची. मधु पर कथित रूप से चावल और खाने पीने की चीजों को चुराने का आरोप था. बताया जा है रहा है कि वह 2016 से दुकानों पर से खाने की सामना की चोरियां करता आ रहा है.