मुस्लिम लेखक ने की GOD की 'INSULT', हमला

तिरुवनंतपुरम (26 जुलाई) केरल के पलक्कड ज़िले में एक युवा मुस्लिम लेखक पर चार लोगों ने हमला किया। मुस्लिम लेखक पर कथित तौर पर आरोप है कि उसने अपनी शार्ट स्टोरीज़ के कलेक्शन में गॉड का अपमान किया।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक 26 वर्षीय पी जिमसार पर रविवार रात को तब हमला किया गया जब वो कूटानाडु में बस स्टाप पर बस का इंतजार कर रहे थे।

जिमशार का स्टोरीज़ कलेक्शन- पाडाचोंटे चित्रा प्रदर्शनम ( गॉड फोटो एक्जीबिशन) 5 अगस्त को रिलीज होना है। मलयालम में पाडाचोन का मतलब अल्लाहू (गॉड) होता है।

जिमशार की शिकायत पर पुलिस ने जाफर नाम के एक व्यक्ति और 3 अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज की है।   

जिमशार ने कहा, "मैं बस का इंतजार कर रहा था कि एक व्यक्ति पास आया और उसने मुझे बस स्टॉप से थोड़ी दूर ले जाकर कहा कि कि तुमने किताब में पाडाचोन के बारे में लिखा है। फिर उसने मेरी छाती पर लात मार दी। फिर उसके तीन साथी भी आकर मुझे बुरी तरह पीटने लगे। लोगों ने मुझे अस्पताल पहुंचाया।"

जिमशार ने कहा कि मेरी किताब का गॉड से कोई जुड़ाव नहीं है। किताब का शीर्षक इसमें शामिल 9 कहानियों के एक शीर्षक से लिया गया है। पुलिस ने इसे हमले का मामला मानते तहकीकात कर रही है।