केरल: RSS प्रमुख मोहन भागवत को झंडा फहराने से रोका गया

तिरुवंतपुरम(15 अगस्त): स्वतंत्रता दिवस के मौके पर केरल के पलक्कर इलाके के एक स्कूल में ध्वजारोहण करने पहुंचे आरएसएस चीफ मोहन भागवत को जिला कलेक्टर ने झंडा फहराने से रोक दिया है।

-  जिला कलेक्टर का कहना है कि किसी भी राजनीतिक नेता द्वारा ध्वजारोहण ठीक नहीं है। 

- उन्होंने कहा कि ध्वजारोहण या तो स्कूल टीचर फहरा सकता है या फिर चुने हुए प्रतिनिधि द्वारा ध्वजारोहण किया जा सकता है।   - मोहन भागवत को ध्वजारोहण ना करने देने के फैसले को बीजेपी ने चुनौती दी है। दरअसल मोहन भागवत को आरएसएस के एक कार्यकर्ता द्वारा संचालित करनाकियामम स्कूल में मंगलवार सुबह 9 बजे ध्वजारोहण करना था। इस बीच स्कूल को जिला कलेक्टर की तरफ से सूचित किया गया कि एडिड स्कूल में किसी राजनीतिक पार्टी के पॉलीटिकल लीडर द्वारा ध्वजारोहण कराया जाता है तो ये नियमों का उल्लंघन होगा।

- जिला कलेक्टर ने कहा कि लोगों के  प्रतिनिधि या फिर स्कूल के प्रमुख ही ध्वजारोहण कर सकते है। सरकार ने इस मामले में एक ऑर्डर भी जारी किया है।    - जिला प्रशासन ने स्कूल प्रशासन को रात एक बजे नोटिस जारी करते हुए कहा कि सरकारी आदेश का पालन करें। हालांकि आरएसएस ने इस ऑर्डर को चुनौती देते हुए कहा है कि फ्लैग कोर्ड के मुताबिक स्वतंत्रता दिवस पर कोई ध्वजारोहण कर सकता है।