46 साल बाद इस शख्‍स को मिली सफलता, बीजेपी भी यहां पहली बार जीती

तिरुवनंतपुरम (19 मई): पूर्व केंद्र मंत्री ओ. राजगोपाल ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के टिकट से केरल विधानसभा सभा निर्वाचन में जीत हासिल कर इतिहास रच दिया। इसी के साथ वह केरल में चुनाव जीतने वाले बीजेपी के पहले नेता बन गए हैं।

निर्वाचन आयोग ने कहा कि राजगोपाल ने तिरुवनंतपुरम की नेमोम सीट से 8,000 से अधिक मतों से चुनाव जीता है। उन्होंने मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी सीपीआई (एम) के वर्तमान विधायक वी. सिवनकुट्टी को हराया है। उनकी जीत की घोषणा से पहले ही हजारों की संख्या में बीजेपी समर्थकों ने मतगणना केंद्र के बाहर जश्न मनाया।

राजेत्तन के नाम से मशहूर राजगोपाल की आयु 86 वर्ष है। राजगोपाल ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1960 में भारतीय जनसंघ के साथ की थी। वह राज्य अध्यक्ष भी बने। 1980 में वह पहली बार संसदीय चुनाव में उतरे थे। 1980 में कासरगोड सीट से इस पहली ही पारी में उन्हें शिकस्त झेलनी पड़ी। इसके बाद उन्होंने 1989 में मंजेरी से नाकामयाबी झेली। लोकसभा चुनाव में इसके बाद वह 1991, 1999, 2004, 2014 में हारते रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर ट्वीट किया। उन्होंने केरल में बीजेपी को खड़ा करने वालों को नमन करते हुए कहा कि दशक दर दशक, एक-एक ईंट जोड़कर बीजेपी को राज्य में खड़ा करने वालों को मेरा नमन। उन्हीं की बदौलत हम आज यह दिन देख सके हैं।