रोहित वेमुला के मास्टर्स डिग्रीधारक भाई को क्लर्क की नौकरी की ऑफर

नई दिल्ली (12 अप्रैल): दिल्ली सरकार ने दिवंगत दलित छात्र रोहित वेमुला के भाई राजा वेमुला को सरकारी क्लर्क की नौकरी ऑफर की है। रोहित के खुदकुशी का मामला पूरे देश में एक बहस का मुद्दा बन गया था। जिसके बाद हैदराबाद यूनिवर्सिटी कैम्पस में भेदभाव के मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार को भी घेरा गया था।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, एप्लाइड जियोलॉजी में मास्टर्स की डिग्रीधारक राजा वेमुला ने मंगलवार को कहा कि नौकरी को अभी तक स्वीकार नहीं की है। क्योंकि उसे यह सहानुभूति के आधार पर दी गई है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 24 फरवरी को दिल्ली में वेमुला की मां से मुलाकात के बाद रोहित के छोटे भाई को नौकरी देने की घोषणा की थी। पांडिचेरी केंद्रीय विश्वविद्यालय से 72.8 फीसदी मार्क्स के साथ एमएससी की डिग्री होने के बाद भी राजा ने नेशनल इलिजिबिलिटी टेस्ट (एनईटी) पास कर लिया है। जिससे उसे देश के किसी भी कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर पर रखा जा सकता है। 

आमआदमी पार्टी सरकार की तरफ से 4 अप्रैल को भेजी गई चिट्ठी में कहा गया है, "कैंडीडेट को चयन प्रक्रिया और स्किल टेस्ट क्वालिफिकेशन्स की साधारण प्रक्रियाओं से छूट दी गई है।" यह एक अस्थाई पोस्ट है।

दिल्ली सरकार के अधिकारियों के मुताबिक, सहानुभूति के आधार पर केवल ग्रुप सी और डी की क्लर्क स्तर की नौकरियां ही दी जा सकती हैं। एक अधिकारी ने बताया, "जब परिवार दिल्ली आया था, तो उन्होंने रोहित के भाई के लिए नौकरी मांगी थी और दिल्ली आने की इच्छा जताई थी। हमने उन्हें एक घर देने की पेशकश की है। वित्तीय परेशानी से जूझ रहे परिवार की मदद करना हमारा मकसद है।"

राजा का कहना है कि वह केजरीवाल का आभारी है। लेकिन उसने अभी भी यह नौकरी नहीं ली है।