400 दिन में जाम फ्री होगी दिल्ली, गडकरी ने पेश किया यह प्लान

नई दिल्ली (14 अप्रैल): दिल्ली में जाम का झाम, ग्रीन लाइट पर भी घंटों जाम में बीतना दिल्लीवासियों की जिंदगी का सबब बन गया है, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि 400 दिन में दिल्ली हो जाएगी जाम फ्री। केंद्रीय मंत्री गडकरी ने दिल्ली से ट्रैफिक कम करने के लिए एक प्लान तैयार किया है। उस प्लान में 8 रेडिकल रोड दिल्लीवासियों को जाम से मुक्ति दिलाएंगी।

दिल्ली की रिंग रोड हो या नेशनल हाईवे, कई दफा ग्रीन सिग्रनल मिलने पर भी गाड़ी फर्राटा नहीं दौड़ती बल्कि अटक जाती है। क्योंकि दिल्ली में सड़क पर मिलता है लंबा जाम। जाम के झाम से दिल्ली को बचाने के लिए तैयार हो रहा एक बड़ा प्लान। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक प्लान तैयार कराया है, जिससे दिल्ली में रोज-रोज लगने वाले जाम से मुक्ति मिल पाएगी। इसके लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने नितिन गडकरी से मुलाकात की और दिल्ली को जाम से मुक्ति दिलाने वाले प्लान के बारे में जाना।

गडकरी ने जो प्लान तैयार कराया है, उसमें रिंग रोड से ट्रैफिक अब दिल्ली में एंट्री करने के बजाय सीधे बाहर से बाहर निकल जाएगा।

इस प्लान के मुताबिक:

8 रेडिएल रोड तैयार की जाएंगी सभी सड़कें आउटर रिंग रोड से लिंक होंगी एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने के लिए होगी सुविधा पहले दिल्ली के पड़ोसी राज्य से आने वाले वाहन दिल्ली से होकर गुजरते थे रेडिएल रोड के बाद पड़ोसी राज्य के वाहन बाहर से ही निकल जाएंगे रेडिएल रोड से दिल्ली के दो छोर सीधे जुड़ जाएंगे ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस आपस में जुड़ पाएंगे पूरे प्लान पर 20 हजार करोड़ का खर्च आएगा

दिल्ली में अभी ट्रकों से काफी जाम लगता है। केजरीवाल ने गडकरी के सामने इस बात को रखा और कहा कि दिल्ली के पड़ोंसी राज्यों से आने वाले वाहन दूसरे राज्यों में जाने के लिए दिल्ली से होकर गुजरते हैं, जिससे जाम औऱ प्रदूषण दोनों होते हैं। ऐसे में रेडिएल रोड से ट्रकों की एंट्री कम होगी।

गडकरी के प्लान के मुताबिक 8 रेडिएल रोड इस तरह तैयार की जाएंगी जिसमें: आजादपुर से सोनीपत- 25 किमी. कश्मीरी गेट से बागपत- 30 किमी. निजामुद्दीन ब्रिज से डासना- 30 किमी. नोएडा से बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट- 40 किमी. लाजपत नगर से खेलरी- 64 किमी. शिवाजी प्लेस से बादली- 35 किमी. वजीरपुर से पीपली- 30 किमी. भीकाजी कामा से NBRC गेट- 47 किमी.

रेडिएल रोड के अलावा ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरफिरेल एक्सप्रेस वे को जोड़ना भी प्लान में शामिल है, जिसके लिए गडकरी ने 400 दिन की समय सीमा तय की है यानि करीब सवा साल का इंतजार और दिल्ली हो जाएगी जाम फ्री।