केदारनाथ में सुरक्षा दीवार पर लिखा जाएगा मंदिर का इतिहास


देहरादून (11 अप्रैल): आने वाले दिनों ने केदारनाथ धाम अपने इतिहास और पिछले दिनों आये आपदा के बारे में खुद बयां करेगा। दरअसल केदारनाथ की सुरक्षा के लिए बनाई गई 350 मीटर लंबी और 12 फीट ऊंची RCC सुरक्षा दीवार पर थ्रीडी पेटिंग से केदारनाथ का इतिहास और पुनर्निर्माण की गाथा लिखी जाएगी। दो वाचिंग टावर भी यहां स्थापित किए जाएंगे, जिनकी मदद से चौराबाड़ी क्षेत्र में होने वाली मौसमी गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी।


आपको बता दें कि नेहरू पर्वतारोहण संस्थान ने केदारनाथ और केदारपुरी की सुरक्षा के लिए त्रिस्तरीय सुरक्षा दीवार बनाई है जिसमें पहली गेबिन वॉल, दूसरी रॉक नेट वॉल और तीसरी आरसीसी वॉल हैं। दावा किया जा रहा है कि केदारनाथ में बनाई गई तीनों सुरक्षा दीवारें  साल 2013 में आये सैलाब को रोकने में पूरी तरह से सक्षम हैं। इन दीवारों का निर्माण IIT रुड़की और CBRI के विशेषज्ञों ने मिलकर बनाया है।