भारी बर्फबारी के बीच सैनिक ने 70 किलोमीटर तक कंधे पर उठायी मां की लाश

नई दिल्ली ( 3 फरवरी ): कश्मीर में बर्फबारी और हिमस्खलन की वजह से वहां के हालात खराब हैं। गुरुवार को कश्मीर के एक युवा सैनिक ने अपनी मां की लाश को कंधे पर लाद कर 70 किमी तक लेकर गया। एक रिपोर्ट के अनुसार सैनिक के साथ उसके कुछ रिश्तेदार हैं जो एल.ओ.सी. के नजदीक स्थित गांव जा रहे हैं। हालांकि अपने घर पहुंच कर मां को वहां दफनाने के लिए मोहम्मद अब्बास नामक इस सैनिक को उस रास्ते से गुजरना होगा, जहां पिछले कुछ दिनों से भारी बर्फबारी हो रही है।

वहीं घटना के 4 दिन तक उसे प्रशासन की मदद नहीं मिली है। करीब 50 किलोमीटर की ट्रैकिंग में 10 घंटों का समय लगेगा। इस दौरान वह प्रमुख हाईवे का इस्तेमाल कर रहे हैं जो करीब 6 फुट की बर्फ से ढका हुआ है। इससे थोड़ी ही दूर हिमस्खलन के चलते हाल के दिनों में करीब 20 सैनिकों ने जान गंवाई है। 25 साल के अब्बास पठानकोट में तैनात हैं। उनकी मां सकीना बेगम उनके साथ ही रहती थीं, जिनका 4 दिन पहले इंतकाल हो गया था।

अधिकारियों ने कहा मदद लेने से किया इंकार

कुपवाड़ा जिले के प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने गुरुवार को हेलीकॉप्टर का इंतजाम किया था, लेकिन परिवार ने सुविधा लेने से इंकार कर दिया कि उन्हें मौसम की समझ नहीं है और पता नहीं कि हेलीकॉप्टर उड़ान भर पाएगा या नहीं। हालांकि जवान ने प्रशासन और सरकार के दावों से इंकार कर दिया है। अब्बास ने कहा कि हमने 4 दिन तक सरकार की मदद का इंतजार किया। आज सुबह कुपवाड़ा में अधिकारियों ने हमारा फोन तक नहीं उठाया।