कश्मीरी पंडितों की घाटी में वापसी के लिए सरकार ने उठाया ये कदम

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 जून): आज से तकरीबन 28 साल पहले आतंकवाद की वजह से जिन कश्मीरी पंडितों को कश्मीर में अपना घर छोड़ना पड़ा था, राज्य सरकार अब उन्हें वापस लाने की कवायद कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसकी शुरुआत एक मंदिर यात्रा से होनेवाली है। आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर सरकार ने कश्मीरी पंडितों के लिए श्रीनगर में मौजूद माता खीर भवानी मंदिर के दर्शन का आयोजन किया है। सूत्रों के मुताबिक इसके लिए 20 जून का दिन तय किया गया है।यात्रा के लिए राज्य सरकार ने खासे प्रबंध किए हैं, ताकि घाटी छोड़ चुके कश्मीरी पंडित एक बार फिर से वहां आकर गर्मियों में मंदिर के दर्शन कर सकें। जानकारी के लिए आपको बता दें कि यात्रा के लिए ज्येष्ठा अष्टमी का दिन चुना गया है। बता दें कि माता खीर भवानी मंदिर श्रीनगर के पास तुल्ला मुल्ला में मौजूद है। इस मंदिर को कश्मीर घाटी के पंडित काफी मानते हैं।यात्रा की तैयारियों में लगे सतीश महालदर जो कि खुद एक कश्मीरी पंडित हैं, उन्होंने बताया कि अबतक की सभी सरकारें दावा करती रही हैं कि हम लोगों (कश्मीरी पंडित) की घाटी में वापसी हो सकती है, हालांकि अलग-अलग कारणों से ऐसा नहीं हो पाया है। आपको बता दें कि यात्रा के लिए दिल्ली और जम्मू में तैयारियां हो रही हैं, यात्रा का पूरा खर्च राज्य सरकार उठा रही है।