जम्मू-कश्मीर में हिंसा से अबतक 23 की मौत, अमरनाथ यात्रा बहाल

नई दिल्ली(11 जुलाई): कश्मीर में आतंकी बुरहान की मौत के बाद घाटी में जारी हिंसा में अबतक 2३ की मौत हो चुकी है। दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने, तो श्रीनगर में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बैठक कर हालात का जायजा लिया। इस बीच खबर अमरनाथ यात्रा बहाल कर दी गई है। 

200 से ज्यादा जवान जख्मी...

जम्मू-कश्मीर में भड़की हिंसा में 200 से ज्यादा जवान जख्मी हो गए हैं, जिसमें 9 की हालत गंभीर बनी हुई है। जम्मू-कश्मीर सरकार ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सड़क पर प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा बलों की गोली से घायल शाबिर अहमद (27) की अस्पताल में मौत हो गई। यह शनिवार को शुरू हुए सरकार विरोधी प्रदर्शन में उत्तरी कश्मीर के बाहर सुरक्षा बलों की गोली से हुई पहली मौत है। यह घटना बटमालू में हुई, जिसे अलगाववादियों के गढ़ के रूप में जाना जाता है।

उत्तरी कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षाबलों की ताजा गोलीबारी में फैयाज अहमद मीर की मौत हो गई। आतंकियों ने सड़कों पर विरोध प्रदर्शन का लाभ उठाते हुए ग्रेनेड हमला किया, जिससे केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के चार जवान घायल हो गए। चार और मौतें दिन में इससे पहले हुई थीं।

अनंतनाग जिले के संगम में एक उग्र भीड़ ने पुलिस के एक बुलेट प्रूफ वाहन को पलट दिया और उसे सतलुज नदी में धकेल दिया। इसमें चालक डूब गया, जबकि वाहन में सवार अन्य पुलिसकर्मी घटनास्थल से फरार हो गए। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पुलवामा जिले में रविवार को उग्र भीड़ द्वारा कर्फ्यू तोड़कर सुरक्षाबलों पर हमला किए जाने के बाद सुरक्षाकर्मियों द्वारा की गई गोलीबारी में इरफान अहमद मलिक (17) की भी मौत हो गई।