कश्मीर में ISI की बड़ी साजिश का खुलासा

नई दिल्ली (1 नंवबर): पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की खौफनाक साजिश का खुलासा हुआ है। आईएसआई कश्मीर घाटी में अलगाववादियों की नई फौज तैयार कर रही है, जिसके लिए उसने पुराने अलगाववादियों की फंडिंग रोक दी है। सूत्रों से पता चला है कि अब आईएसआई पुराने अलगावादियों की फंडिंग को नए अलगावादियों पर खर्च करेगी।

सूत्रों से पता चला है कि कश्मीर में दहशत फैलाने के लिए खासतौर पर ISI 9वीं से लेकर 12वीं के छात्रों को बहका रही है। बताया जा रहा है कि आईएसआई अब पुराने अलगाववादियों की फंडिंग को नए अलगाववादियों पर खर्च करेगी। ISI ने कश्मीरी युवाओं को IS की विचारधारा की तर्ज पर बहकाने का बड़ा प्लान तैयार किया है। इसी कड़ी के तहत पिछले दिनों घाटी में कुछ लोगों के हाथ में आतंकी संगठन IS और पाकिस्तान के झंडे थमा दिए गए थे।

इसके अलावा आधुनिक स्कूलों को ख़त्म कर वहाबी-मज़हबी शिक्षा को बढ़ावा देकर कट्टरपंथियों की नई फौज तैयार करने की साजिश हो रही है। इसी साजिश के तहत पिछले दिनों घाटी में करीब 26 स्कूलों को जला दिया गया था। सूत्रों से पता चला है कि घाटी के  स्कूलों को जलाने के लिए ISI और पाकिस्तानी सेना नए अलगावादियों को फंडिंग कर रही है। ISI की तरफ से कश्मीरी युवाओं को पाकिस्तान के साथ जोड़ने की पूरी कोशिश हो रही है, जिसके तहत उनको आतंक और पत्थरबाजी के लिए उकसाया जा रहा है।

खुफिया एजेंसियों को इस बात की जानकारी भी मिली है कि जिस तरह से कश्मीरी युवाओं के विकास के लिए भारत सरकार काम कर रही है उससे घाटी में रहने वाले अलगाववादी और पाकिस्तान में बैठे उनके आका काफी परेशान हैं और इसीलिए वो कश्मीर में दहशत फैलाने की साजिश रचने में जुट गए हैं।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=XcDgBrDcDpo[/embed]