'इज़रायली बंधकों के बदले कसाब को छुड़वाना चाहता था लश्कर'

नई दिल्ली (25 मार्च): 26/11  को मुंबई हमलों के दौरान पकड़े गये आतंकी कसाब को रिहा कराने के लिये लश्कर के चीफ ने कोलाबा के चाबड़ हाउस पर हमला करने के आदेश दिये थे, मगर पुलिस की सतर्कता से लश्कर के आतंकी कामयाब हो सके। ये जानकारी डेविड कोलमैन हैडली ने अदालत के सामने दी है। उसने कहा कि लश्कर चीफ साजिद मीर ने कहा था कि मुंबई पुलिस के चंगुल से कसाब को किसी भी तरह छुडा़ना है।

इसके लिए सबसे आसान तरीका था कि चाबड़ हाउस पर फिर से हमला करके वहां रहने वाले यहूदियों को बंधक बनाया जाये और फिर कसाब की रिहाई के लिये सौदेवाज़ी की जाये। साजिद मीर ने कहा था कि यहूदियों को बंधक बना कर वो इज़राइल सरकार को भी बीच में डालना चाहता है ताकि वो अपने नागरिकों के बदले कसाब को रिहा करने के लिए भारत सरकार पर दबाव डाले।