सेक्स स्कैंडल में गई इस मंत्री की कुर्सी, देना पड़ा इस्तीफा

बेंगलुरु (14 दिसंबर): कर्नाटक के आबकारी मंत्री एचवाई मेती को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा है। एचवाई मेती ने एक सेक्स स्कैंडल में अपना नाम आने के बाद मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को अपना इस्तीफा सौंपा। यह स्कैंडल उस वक्त सामने आया, जब एक RTI ऐक्टिविस्ट ने आरोप लगाया कि एक CD में रिकॉर्ड विडियो में मेती और एक महिला आपत्तिजनक हालात में नजर आए थे।

ऐक्टिविस्ट के मुताबिक, मंत्री ने एक ट्रांसफर के बदले सेक्स करने की डिमांड रखी थी। इसके अलावा, कुछ लोकल टीवी चैनलों ने भी मंत्री और महिला से कथित तौर पर जुड़े कुछ धुंधले विडियो फुटेज चलाए। मंत्री ने अपने निर्दोष होने का दावा करते हुए जांच का सामना करने की बात कही है। उन्होंने इसे अपने खिलाफ राजनीतिक साजिश बताया है।

इस प्रकरण की वजह से रविवार से ही राज्य में सियासी तूफान आया हुआ है। सीएम सिद्दारमैया ने पुलिस से मामले की गहन जांच करने के आदेश दिए हैं। साथ ही उन्होंने कहा था कि ऐसी किसी सीडी होने की दशा में मेती को मंत्री पद पर बने रहने का कोई हक नहीं है और वह ऐसी कोई भी शर्मनाक हरकत बर्दाश्त नहीं करेंगे।

मेती सिद्धारमैया कैबिनेट में सबसे सीनियर मंत्रियों में से एक हैं। उन्हें इस साल जून में कैबिनेट में हुए एक बड़े बदलाव के तहत शामिल किया गया था। वह उस वक्त भी खबरों में आ गए थे, जब उन्होंने कहा था कि वे शराब नहीं पीते, लेकिन आबकारी मंत्री बनाए जाने की वजह से 'शर्मिंदा' महसूस कर रहे हैं।

आपको बता दें कि पिछले महीने सिद्दारमैया कैबिनेट के एक और मंत्री तनवीर सैत भी उस वक्त आलोचनाओं से घिर गए थे, जब वह टीपू जयंती के मौके पर कथित तौर पर मोबाइल फोन पर अश्लील तस्वीरें पाए गए थे।