घूसखोरी में अव्वल है भारत का यह राज्य

नई दिल्ली (27 अप्रैल): अभी तक देश के भ्रष्टाचार का नाम आते ही उत्तर प्रदेश का छवि पहले दीमाग में बन जाती थी, लेकिन अब इस मामले में उत्तर प्रदेश का स्थान कर्नाटक ने ले लिया है। एक एनजीओ के सर्वे में खुलासा हुआ है कि सरकारी कामों को कराने के लिए सबसे ज्यादा घूस कर्नाटक में दी जाती है। उसके बाद आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर और पंजाब का नंबर है। हिमाचल प्रदेश, केरल और छत्तीसगढ़ सबसे कम भ्रष्टाचार वाले राज्यों की सूची में हैं।


यह सर्वे सेंटर फॉर मीडिया स्टडीज नाम के एनजीओ ने कराया है। सर्वे में 20 राज्यों के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के 3,000 लोगों की राय ली गई। सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले एक साल के दौरान कम से कम एक बार करीब एक तिहाई लोगों को सरकारी काम कराने के दौरान भ्रष्टाचार का सामना करना पड़ा। 2005 में इसी तरह की एक स्टडी के दौरान 53 फीसदी लोगों ने घूस देने की बात स्वीकार की थी। आधे से ज्यादा लोगों ने यह स्वीकार किया कि नवंबर और दिसंबर 2016 में नोटबंदी के दौरान पब्लिक सर्विसेज में भ्रष्टाचार में काफी गिरावट आई थी।