विरोध के बाद बेंगलुरू मेट्रो से हटाया हिंदी में लिखा साइन बोर्ड

नई दिल्ली ( 4 अगस्त ): कर्नाटक में हिंदी विरोधी आंदोलनों के मद्देनजर बेंगलुरू मेट्रो से हिंदी में लिखे साइन बोर्ड को हटा लिया गया है। बेंगलुरू मेट्रो में हिंदी, अंग्रेजी और कन्नड़ भाषा में साइन बोर्ड लगाया गया था। लेकिन स्थानीय संगठनों ने हिंदी के विरोध में प्रदर्शन किया। जिसके बाद बेंगलुरू मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड ने शुक्रवार हिंदी में लिखे साइन बोर्ड को हटा दिया।

कर्नाटक के संगठनों का कहना है कि महाराष्ट्र और केरल में भी मेट्रो रेल है, लेकिन वहां हिंदी को तरजीह नहीं दी जाती है। ऐसे में कर्नाटक में भी नहीं दी जानी चाहिए।

पिछले महीने कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में रक्षणा वैदिक संगठन के सदस्यों ने मेट्रो स्टेशन पर हिंदी में लिखे साइन बोर्ड को निशाना बनाना शुरू कर दिया थी और इसे काले रंग से पेंट कर दिया थी।

बेंगलुरू के यसवंतपुर, इंदिरानगर और दीपांजलि मेट्रो स्टेशन पर कर्नाटक रक्षणा वैदिक संगठन के कार्यकर्ताओं ने पोस्टर पर हिंदी में लिखे नाम को मिटा दिया।