कर्नाटक सरकार ने बनाया किसान का मजाक, दिया 1 रुपये मुआवजा

बेंगलुरु (10 जून): मध्‍यप्रदेश में किसानों की हितैशी बन रही कांग्रेस सरकार ने कर्नाटक में किसान का मजाक उड़ाया है। राज्य सरकार ने एक किसान को फसलों के नुकसान पर एक रुपये मुआवजा दिया है। हालांकि मामला सामने आने के बाद राज्य सरकार ने इस बारे में संबंधित अधिकारियों से जवाब मांगा है।

किसान बासवराज होसामानी को पता चला कि राजस्व विभाग ने उनके अकाउंट में फसलों के नुकसान के लिए 1 रुपये मुआवजा राशि जमा कराई है। सरकार की तरफ से 10,800 रुपये मुआवजा राशि तय की गई है। उन्होंने बताया, 'मेरे पड़ोसी ने जब बताया कि उन्हें मुआवजा मिल गया है, मैंने भी अपने अकाउंट का बैलंस चेक किया, लेकिन मैं बैलंस देखकर हैरान रह गया।'

कानून मंत्री टी.बी जयचंद्र ने विधानसभा कहा कि 11 जून को वह इस संबंध में तथ्य पेश करेंगे। उन्होंने कहा, 'मुझे हैरानी हुई है कि फसल के नुकसान पर किसानों के अकाउंट में इतनी मामूली राशि जमा कराई गई है।'

इधर, सूत्रों ने बताया कि यह गड़बड़ी आधार नंबर को बैंक अकाउंट से जोड़ने के कारण हुई है। एक अधिकारी ने बताया, 'जिले के 87,500 किसानों का कर्ज माफ किया जाना है। इनमें से 84,000 के बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ा गया है और उन्हें मुआवजा मिला है। दस्तावेजों की जांच के लिए 3,500 किसानों के अकाउंट में 1 रुपये टोकन मनी के रूप में जमा किए गए हैं।'