युद्ध की तैयारी में पाकिस्तान, रोकीं विदेशी उड़ानें

नई दिल्ली(2 अक्टूबर): पाकिस्तान ने अपने लगभग सभी एयरस्पेस पर विदेशी कमर्शल एयरलाइन्स की कम ऊंचाई वाली उड़ानों को रोक दिया है। पिछले सोमवार को 33,000 फुट से कम ऊंचाई की उड़ानों को पाकिस्तान ने कराची एयरस्पेस में बंद किया था। अब लाहौर एयरस्पेस में 29,000 फुट से कम ऊंचाई की उड़ानों को बंद किया गया है।

- पाकिस्तान ने एयरमेन (NOTAM) को इस संबंध में नोटिस जारी किया है। इन उड़ानों को बंद करने की वजह 'ऑपरेशनल' बताई गई है।  - कराची एयरस्पेस पर यह पाबंदी एक हफ्ते के लिए है जबकि लाहौर में यह प्रतिबंध 31 अक्टूबर तक है। इंडियन एयरलाइन्स के एक कमांडर और इंटरनैशनल रूट प्लानर ने कहा कि एयरस्पेस पर इस पाबंदी के कारण पाकिस्तान से होकर वेस्टगल्फ जाने वाली उड़ानों में देरी हो सकती है।

- एक और कमांडर ने कहा कि एयरस्पेस पर लोवर-लेवल उड़ानों को पाकिस्तान ने इसलिए स्थगित किया है ताकि उसके मिलिटरी जेट्स के एक्सर्साइज में कोई बाधा उत्पन्न न हो। कमांडर ने कहा, 'पाकिस्तान यह चाल भारत की वजह से चल रहा है। राजस्थान और गुजरात सीमा से कराची काफी करीब है। दूसरी तरफ लाहौर जम्मू-कश्मीर और पंजाब के करीब है।'

- पाकिस्तान के साथ हवाई संबंधों को जारी रखने को लेकर पीएमओ समीक्षा कर रहा है। भारत इस बात की भी समीक्षा कर रहा है कि पाकिस्तान इंटरनैशनल एयरलाइन्स (PIA) की उड़ानें भारत में आने दी जाएं या नहीं। कोई इंडियन कैरियर पाकिस्तान के लिए उड़ान नहीं भरता है।

- एक और सीनियर कमांडर ने कहा, 'पाकिस्तान की न्यूक्लियर क्षमता लाहौर में स्थित है और ऐसे में हम यहां किसी चक्करदार मार्ग की अनुमति कभी नहीं देंगे। पहले कराची और अब लाहौर एयरस्पेस पर यह बैन, पाकिस्तान ने भारत के साथ बढ़ती टेंशन को देखते हुए लगाया है।'

- उरी अटैक के बाद पाकिस्तान की तरफ से एयरस्पेस पर यह तीसरा बैन है। 10 दिन पहले PIA ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में गिलगित-बल्टिस्तान इलाके में गिलगित और शार्दुल के लिए उड़ानें रद्द कर दी थीं।