Blog single photo

विराट कोहली नहीं,इस खिलाडी को सबसे बड़ा क्रिकेटर मानते हैं कपिल देव

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और 1983 विश्व कप जीत के हीरो कपिल देव विराट कोहली को सबसे बड़ा क्रिकेटर नहीं मानते। भले ही मौजूदा दौर में कप्तान और बल्लेबाज के तौर पर विराट कोहली लगातार ऊंचाइयां छू रहे हैं मगर कपिल देव उन्हें भारत का सबसे बेहतरीन क्रिकेटर नहीं मानते। कपिल देव के मुताबिक विराट कोहली नहीं बल्कि महेंद्र सिंह धोनी सबसे बड़े क्रिकेटर है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 दिसंबर):  भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और 1983 विश्व कप जीत के हीरो कपिल देव विराट कोहली को सबसे बड़ा क्रिकेटर नहीं मानते। भले ही मौजूदा दौर में कप्तान और बल्लेबाज के तौर पर विराट कोहली लगातार ऊंचाइयां छू रहे हैं मगर कपिल देव उन्हें भारत का सबसे बेहतरीन क्रिकेटर नहीं मानते। कपिल देव के मुताबिक विराट कोहली नहीं बल्कि महेंद्र सिंह धोनी सबसे बड़े क्रिकेटर है।

एक समारोह में जब कपिल देव से पूछा गया कि धोनी के बारे में वे क्या सोचते हैं, तो उन्होंने बिना किसी हिचकिचाहट के कहा, 'धोनी भारत के सबसे बड़े खिलाड़ी हैं. उन्होंने 90 टेस्ट खेले और फिर कहा कि चलो अब युवाओं को मौका दें। धोनी ने ऐसा ही किया, अपने देश को खुद से पहले रखने के लिए उन्हें सलाम है।' बता दें कि धोनी ने 2014 में ऑस्ट्रेलियाई दौरे के बीच में ही अचानाक टेस्ट क्रिकेट से संन्याल लेने की घोषणा कर दी थी।  इसके बाद जनवरी 2017 में उन्होंने सीमित ओवरों के प्रारूपों में भारत की कप्तानी से भी खुद को अलग कर लिया।

वहीँ,पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर से जब यह पूछा गया कि क्या वह मानते हैं कि भारतीय टीम 2019 का विश्व कप जीतेगी, तो उन्होंने कहा कि हां जरूर। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि लॉर्ड्स में होने वाले फाइनल में आखिरी ओवर की आखिरी गेंद हो धोनी बल्लेबाजी कर रहे हों और सामने से पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर गेंद डालें और जीत के लिए 6 रनों की दरकार हो। आमिर की अंदर आती हुई गेंद पर धोनी सिक्सर मारें और ठीक वैसा ही इशारा करें जैसा उन्होंने 2011 के विश्वकप फाइनल में किया था।

बता दें की कपिल और धोनी दोनों ही वर्ल्ड कप चैंपियन कप्तान हैं, कपिल ने 1983 में पहली बार ऐतिहासिक लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप ट्रॉफी उठाई थी, जबकि धोनी ने वानखेड़े स्टेडियम में मशहूर छक्के की मदद से भारत को 2011 का वर्ल्ड कप जिताया था।

Tags :

NEXT STORY
Top