ग्रीलॉट को भारत का सलाम, उनके जल्द सही होनी की कामना: सुषमा स्वराज

नई दिल्ली(28 फरवरी): अमेरिका के कंसास में मारे गए 32 वर्षीय भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला का पार्थिव शरीर मंगलवार तड़के एयर इंडिया के विमान से हैदराबाद लाया गया। यहां से एंबुलेंस के जरिए इसे उनके उनके घर तक ले जाया गया। इसकी पूरी व्यवस्था भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से की गई थी।

- भारतीय इंजीनियर की हत्या पर केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी घटना की निंदा की है।

- उन्होंने घटना पर हैरानी जताते हुए कहा कि उनकी संवेदनाएं पीड़ित परिवार के साथ हैं।

- इस बीच उन्‍होंने इस हिंसा के दौरान लोगों को बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालने वाले इयान ग्रीलॉट काे हीरो बताते हुए उनकी तारीफ की है। साथ ही उन्‍होंने उनके जल्‍द सही होने की भी कामना की है। कंसास में गोलीबारी के दौरान उन्‍होंने ही अपनी जान की परवाह न करते हुए वहां मौजूद लोगों की जान बचाई थी।