पानी बचाओ: मिलिए कानपुर देहात के जलपुरुष मुहम्मद शब्बीर से

योगेन्द्र कुमार, कानपुर देहात, न्यूज24 (15 जुलाई): पानी अनमोल है। कहा जाता है कि अगर तीसरा विश्वयुद्ध होगा तो वो पानी के लिए होगा। ना जाने कितने लोग पानी बेच कर पैसे बना रहे हैं,  लेकिन कानपुर देहात में एक ऐसा शख्स है जो अपने खर्चे पर आम लोगों को पानी पिलवाता है। कानपुर देहात के जलपुरुष पर यह है हमारी खास रिपोर्ट।

कानपुर के आसपास के इलाकों में ग्राउंड वाटर लगातार नीचे जा रहा हैं। नदियों का पानी बेहद गंदा हो चुका है।  कूएं, तालाब खत्म हो रहे हैं। लोग पीने के साफ पानी के लिए परेशान हैं, लेकिन इसी इलाके में एक शख्स अपनी जमापूंजी लोगों को साफ पानी पिलाने के लिए खर्च कर रहा है।

मुहम्मद शब्बीर कानपुर देहात के रहने वाले बेहद साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। शब्बीर पिछले 11 बरसों से लोगों को पानी पिलाने के लिए अपना भगीरथ प्रयास कर रहे हैं। झींझक कस्बे में शब्बीर अब तक अपने खर्चे पर अब तक करीब 11 हैंडपंप लगवा चुके हैं। सार्वजनिक स्थानों पर लगे ये हैंडपंप गर्मी के दिनों में लोगों की प्यास बुझाने के काम आ रहे हैं।

कानपुर देहात के झींझक स्टेशन पर भी शब्बीर के भगीरथ प्रय़ास का असर दिख रहा है। स्टेशन पर शब्बीर अब तक 17 पौधे लगवा चुके हैं। इन पेड़ों की छांव में बैठने वाले मुसाफिर शब्बीर को दुआएं देते हैं। लोगों की मदद करना उन्हें सुकून देता है। शब्बीर ने मुश्किलों में भी अपना काम नहीं रोका। जब शब्बीर की बेटी की मौत हो गई थी तो उन्होंने बेटी का गुल्लक तोड़ने से निकले पैसों का सही इस्तेमाल करने के लिए  लोगों की मदद करने का बीड़ा उठाया जो आज भी जारी है।