कानपुर में चला कोहली का बल्ला, बना दिए ये दो बड़े रिकॉर्ड

कानपुर (29 अक्टूबर): कानपुर के ग्रीन पार्क में न्यूजीलैंड के खिलाफ करो या मरो जैसे मुकाबले में कप्तान कोहली का बल्ला जमकर गरजा। कोहली ने जहां वनडे करियर का अपना 32 शतक ठोका वहीं 83 रन बनाते ही कोहली वनडे में सबसे तेज 9000 रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए। इससे पहले ये रिकॉर्ड द.अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के नाम था। उन्होंने इस साल की शुरुआत में बनाया था। डिविलियर्स ने 214 मैचों की 205 पारियों में यह रिकॉर्ड बनाया था।


83 रन पूरे करते ही कप्‍तान विराट कोहली ने इतिहास रच दिया। वह एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे तेज 9 हजार रन पूरे करने वाले बल्‍लेबाज बन गए हैं। सबसे तेज 9 हजार रन बनाने का रिकॉर्ड फिलहाल द.अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के नाम है,जो उन्होंने इस साल की शुरुआत में बनाया था। डिविलियर्स ने 214 मैचों की 205 पारियों में यह रिकॉर्ड बनाया था। इसका मतलब है कि विराट कोहली के पास 11 पारियां हैं, जिनमें वह यह रिकॉर्ड बना सकते हैं। लेकिन फैन्स को यही उम्मीद होगी कि विराट बतौर कप्तान शानदार खेल दिखाकर न सिर्फ यह वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाएं, बल्कि लगातार सातवीं सीरीज जीत भी दर्ज करें। 2017 में विराट कोहली सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। वह इकतौले बल्लेबाज हैं, जिन्होंने इस कैलेंडर वर्ष में 1000 से ज्यादा रन बनाए हों।


टॉस हारकर पहले बैटिंग के लिए उतरी टीम इंडिया के लिए 9 रन बनाते ही कोहली ने 2017 में इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 2000 रन पूरे किए। कोहली इस साल ये उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। कोहली के बाद इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला हैं जिन्होंने इस साल 34 मैचों में अब तक 1988 रन बनाए हैं। तीसरे नंबर पर 1855 रन के साथ जो रूट, चौथे नंबर पर 1709 रन के साथ फाफ डुप्लेसिस और पांचवें नंबर पर 1610 रन के साथ क्विंटन डि कॉक हैं। कोहली ने अपने करियर में दूसरी बार ये उपलब्धि हासिल की है। इससे पहले उन्होंने 2016 में भी ये उपलब्धि हासिल की थी। कोहली से पहले भारत के लिए सचिन तेंदुलकर तीन कैलेंडर साल में ये कमाल कर चुके हैं। सचिन ने 1996, 1997 और 1998 में लगातार तीन साल इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 2000 रन बनाए थे।

इतना ही नहीं इस मैच में 35 रन बनाते ही कोहली ने वनडे में एक कैलेंडर साल में अपने सबसे ज्यादा रन के रिकॉर्ड को बेहतर किया। इस मैच से पहले इस साल कोहली ने 25 वनडे मैचों में 1347 रन बनाए थे। इस मैच में 35 रन तक पहुंचते ही कोहली ने 2011 में बनाए गए अपने 1381 रन के रिकॉर्ड को पार कर लिया। इस तरह 2017 का साल कोहली के करियर के वनडे करियर का सबसे कामयाब साल बन गया है।