कंगना ने खोला 'क्वीन' का राज़- 'सेंसर के कहने पर ब्लर की गई थी ब्रा'

नई दिल्ली (10 जून) : एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी सेंसर बोर्ड और फिल्म 'उड़ता पंजाब' के बीच चल रहे विवाद में फिल्म का समर्थन किया है। एक अवॉर्ड शो के बाद कंगना ने बेबाक तरीके से सेंसरशिप पर अपनी बातें रखीं। इस बैठक में केंद्रीय सूचना और प्रसारण अरुण जेटली भी मौजूद थे।  

अवॉर्ड शो के बाद कंगना ने कहा, "मैं एक डायरेक्‍टर नहीं हूं। मैं इस प्रक्रिया से नहीं गुजरी हूं। लेकिन मेरे करीबी दोस्‍त और साथ काम करने वाले लोग बेहद परेशान हैं। वे एक हद तक डराए-धमकाए गए महसूस कर रहे हैं। मैं उन्‍हें सपोर्ट करूंगी। वे जानेमाने आर्टिस्‍ट हैं। वे सर्टिफिकेशन की प्रक्रिया को जानते हैं। यह सेंसरशिप नहीं है। हमें ऑडियंस को लेकर अभिभावक वाला रुख रखने की जरूरत नहीं है।"

तीन बार नेशनल अवॉर्ड जीत चुकीं कंगना ने अपनी फिल्म पर सेंसरशिप का वाकया भी बताया। कंगना के मुताबिक पेरिस में शूटिंग के दौरान फिल्म का एक फनी सनी था। जिसमें रुममेट उनके रूम में आते हैं तो बेड पर ब्रा पड़ी देखते हैं। ऐसे में कंगना चुपके से ब्रा को बिस्तर के अंदर छुपाती है। सेंसर बोर्ड ने ब्रा को ब्लर करने के लिए कहा क्योंकि उसके हिसाब से वो अश्लील था। कंगना ने बताया कि डिजाइनर मानुषी हर चीज़ पर डिटेल्स से काम करती हैं। कंगना के मुताबिक सिनेमा बारीकियों के बारे में होता है और इसमें छोटी छोटी चीजों से भी बड़ा फर्क पड़ता है। डिजाइनर मानुषी ने तय किया था कि फिल्म में रानी का किरदार निभा रहीं कंगना किस तरह की ब्रा पहनेंगी। इस सीन के लिए खास तौर से ब्रा को लाजपत नगर से पेरिस ले जाया गया था। कंगना के मुताबिक डायरेक्टर के पास कोई विकल्प नहीं था, आखिर उसे इस सीन में ब्रा को ब्लर करना पड़ा था।