पैदा होते ही हुई चोरी, मिली 18 साल बाद

नई दिल्ली ( 14 जनवरी ): कैमियाह मोबली महज 8 घंटे की थीं तभी फ्लॉरिडा के अस्पताल से अगवा कर लगी गई थीं। अस्पताल में लगे कैमरा में एक महिला को बच्चे के साथ भागते हुए देखने के बाद भी पुलिस अब तक कैमियाह को ढूंढ नहीं पाई थी। लेकिन शुक्रवार को अचानक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्होंने 18 साल पहले अगवा हुई कैमियाह को ढूंढ निकाला है।

पुलिस ने बताया कि कैमियाह साउथ कैरलिना के वॉल्टरबोरो में एक महिला के साथ रह रही हैं जिसे वह अपनी मां मानती हैं। पुलिस ने ग्लोरिया विलियम्स नाम की इस महिला को कैमियाह के अपहरण के आरोप में गिरफ्तार भी कर लिया है। महिला ने कैमियाह का नाम भी बदल दिया था।

मोबली के पैदा होने के समय उनकी मां महज 16 साल की थीं। जन्म के आठ घंटे बाद ही एक महिला आई जिसने खुद को नर्स बताया और मोबली को अगवा कर ले गई। इसके बाद मोबली को खोजने के लिए बड़े स्तर पर सर्च ऑपरेशन चलाया गया। अस्पताल और शहर में हेलिकॉप्टर से नजर रखी गई, लेकिन सालों बीत जाने के बाद भी कोई सुराग नहीं मिला।

कुछ महीने पहले खुद कैमियाह को लगा कि उसे अगवा कर के वॉल्टबोरो लाया गया है। हालांकि पुलिस अधिकारियों ने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी कि लड़की को यह शक क्यों हुआ और उसका मामला नैशनल सेंटर फॉर मिसिंग ऐंड एक्स्प्लॉइटड चिल्ड्रन के पास कैसे आया लेकिन सेंटर ने कैमियाह के मामले में तेजी से काम करते हुए उसे असली परिवार से मिलवा दिया।