कैराना: पुलिस मुठभेड़ में मारा गया बदमाश फुरकान

नई दिल्ली (8 अप्रैल): कैराना में पुलिस ने आतंक का पर्याय बच चुके अपराधी फुरकान को मुठभेड़ में मारा गिराया। राज्य के पुलिस महानिदेशक जावीद अहमद ने फुरकान पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था।


पुलिस ने दावा किया कि फुरकान जेल में बंद अपराधी मुकीम उर्फ काला गैंग का शूटर था। फुरकान पर हत्या, हत्या का प्रयास गुंडा टैक्स, रंगदारी समेत कुल 14 मामले दर्ज थे।


- फुरकान को कैराना में ही मुठभेड़ के दौरान मारा गया। उसे चार गोलियां लगीं। 

- फुरकान पुत्र फीमूद्दीन कैराना का ही निवासी था।

- कैराना पलायन पर मचे बवाल के दौरान भी फुरकान कारोबारियों के घरों में चिट्ठियां भेजकर उससे रंगदारी मांगता रहा था।

- एसपी सरकार के कार्यकाल में फुरकान को इलाके के एक कद्दावर नेता की शह मिली हुई थी, इसलिए पुलिस भी कार्रवाई करने से अबतक बचती रही थी।

- राज्य में सरकार बदलने के बाद पुलिस हरकत में आ गई थी।

- कैराना में रंगदारी के धंधे में सिर्फ तीन गैंग की दहशत है। इनमें से सबसे ज्यादा मुकदमे फुरकान और उसके गैंग के खिलाफ थे।

- सूबे में बीजेपी की सरकार बनने के बाद भी कुछ दिन पहले शातिर फुरकान ने एक बार फिर रंगदारी मांगी थी।

- फुरकान की धमकी देने की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी।