गांधी पर 'विवादित' बयान देकर एक बार फिर फंसे विजयवर्गीय, कहा...

नई दिल्ली (2 जून): बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय एक बार फिर विवादित बयान देकर सुर्खियों में आए हैं। इस बार तो विजयवर्गीय ने कह दिया है कि देश को आजादी साबरमती के संत यानी गांधी जी ने नहीं बल्कि क्रांतिकारियों ने दिलाई थी। इसीलिए कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस ने इसे सवा सौ करोड़ लोगों का अपमान बताया है।  

इस बयान के साथ ही विवादों में रहनेवाले बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक और विवाद को जन्म दे दिया है। कैलाश विजयवर्गीय गए तो थे हरियाणा के हिसार में विकास पर्व के कार्यक्रम में हिस्सा लेने लेकिन सरकार की उपलब्धियों को गिनाते गिनाते विजयवर्गीय देश की आजादी की बात करने लगे। आजादी को ढाल बनाकर कैलाश ने इस बहाने महात्मा गांधी पर विवादित टिप्पणी कर डाली।  

महात्मा गांधी पर विवादित टिप्पणी करने पर कैलाश के खिलाफ कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेसी नेताओं कैलाश के बयान पर पीएम और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से माफी की मांग की है। कांग्रेस ने कैलाश के बयान को सवा सौ करोड़ भारतीयों का अपमान बताया है।

पहले भी कई बार विवादित बयान दे चुके कैलाश भारी विरोध के बाद अपने बयान पर माफी भी मांग चुके हैं। लेकिन इस नई विवादित टिप्पणी के बाद क्या गांधी पर सवाल उठाने वाले कैलाश माफी मांगेगे?