खालिस्तान समारोह में शामिल हुए कनाडा के पीएम, भारत नाराज

नई दिल्ली ( 12 मई ): 'खालिस्तान समारोह' में कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो के शामिल होने से भारत नाराज है। हाल ही में टोरंटो में आयोजित हुए इस कार्यक्रम के दौरान कथित तौर पर खालिस्तानी झंडे भी लहराए गए थे।


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा, अतीत में भी हम इस तरह के मसलों को कनाडा सरकार के सामने राजनयिक माध्यमों से ले जाते रहे हैं। उन्होंने कहा, इस विशेष मामले में विस्तार से जानकारी के बिना मैं केवल यह कह सकता हूं कि यह तरीका अभी रुका नहीं है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कनाडाई पीएम की उपरोक्त कार्यक्रम में मौजूदगी को लेकर सवाल पूछा गया था। इस कार्यक्रम में भारत द्वारा आतंकवादी घोषित जरनैल सिंह भिंडरवाले की तस्वीरें भी दिखाई गई थीं। खालसा दिवस समारोह सिखों के नव वर्ष के मौके पर आयोजित किया गया था।


इससे पहले कनाडा ने पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह के उस बयान को निराशाजनक और अनुचित ठहराया था जिसमें उन्होंने ट्रूडो सरकार के रक्षा मंत्री हरजीत सज्जन समेत 5 मंत्रियों को खालिस्तानी समर्थक और उनसे सहानुभूति रखने वाला बताया था।


पिछले महीने रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कनाडाई समकक्ष सज्जन के सामने ओंटारियो विधानसभा की ओर से पारित उस प्रस्ताव पर गहरी नाराजगी जाहिर की थी जिसमें 1984 के सिख विरोधी दंगों को जनसंहार करार दिया गया था।