जस्टिस कर्णन ने CJI को लेटर लिख मांगा 14 करोड़ का मुआवजा


नई दिल्ली(17 मार्च): कलकत्ता हाईकोर्ट के जस्टिस सीएस कर्णन ने अब चीफ जस्टिस जेएस खेहर और कुछ दूसरे जजों को लेटर लिखकर 14 करोड़ रुपए मुआवजा मांगा है।


- लेटर में लिखा है कि उन्हें मानसिक रूप से परेशान किया गया और सरेआम उनकी बेइज्जती की गई, जिसके बदले में उन्हें यह रकम दी जाए।


- बता दें कि जस्टिस कर्णन ने पीएम को लेटर लिखकर कुछ रिटायर्ड और मौजूदा जजों पर करप्शन के आरोप लगाए थे।


- इसकी वजह से उन पर अवमानना का केस चल रहा है। कई बार नोटिस जारी होने के बाद भी वो कोर्ट में हाजिर नहीं हुए हैं। पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने उनके खिलाफ बेलेबल वारंट जारी किया था। वह पहले ऐसे जस्टिस हैं, जिनके खिलाफ वारंट जारी किया गया है।


- चीफ जस्टिस जेएस खेहर की अगुआई वाली सात जजों की बेंच ने 10 मार्च को जस्टिस कर्णन के खिलाफ बेलेबल वारंट जारी किया था। इसमें उन्हें 31 मार्च को कोर्ट में हाजिर करने का ऑर्डर दिया गया था।