बृहस्पति के दर पर जूनो की दस्तक- नासा को मिली अभूतपूर्व सफलता

नई दिल्ली (5 जुलाई): फ्लोरिडा के कैपकैनरेवल से पांच साल पहले रवाना किया गया नासा का स्पेस शटल जूनो बृहस्पति की कक्षा में पहुंच गया है। लगभग पौने तीन अरब किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद मानवरहित अंतरिक्षयान जूनो ने लगभग 12 बजे बृहस्पति की कक्षा में भ्रमण शुरु किया। कहा जा रहा है जूनो का बृहस्पति पर पहुंचना नासा की अब तक की सबसे बड़ी उपलब्धि है।

इस मिशन पर एक अरब डॉलर से ज्यादा का खर्च आया है। नासा की कैलिफोर्निया स्थित जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी के कंट्रोल रूम से जुड़े एक वैज्ञानिक ने जैसे ही कहा कि कहा कि बृहस्पति पर स्वागत है- वैसे ही वहां मौजूद लोगों की उल्लास से भरी आवाजें गूंजने लगीं। नासा के प्रमुख जांचकर्ता स्कॉट बोल्टन ने बेहद उल्लास के साथ चिल्लाते हुए कहा, ‘हम उस पर पहुंच गए।’ उन्होंने मिशन कंट्रोल में लगे अपने सहकर्मियों से कहा कि आप लोग अब तक की सर्वश्रेष्ठ टीम हैं। आपने नासा की अब तक की सबसे मुश्किल चीज को अंजाम दिया है। नासा ने इसका एक वीडियो भी जारी किया है- देखियेः

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=kjfQCTat-8s[/embed]