ट्रैफिक रूल तोड़ने पर कोेर्ट-कचहरी से बचना है! तो ये खबर आपके लिए...

नई दिल्ली (29 जुलाई): अगर आप ट्रैफिक के छोटे नियमों को तोड़ते हुए पकड़े जाते हैं, लेकिन कोर्ट-कचहरी के चक्कर में नहीं पड़ना चाहते! तो आपके लिए ये खबर राहत दे सकती है। अब आप ऐसे में दोगुना जुर्माना भरकर और कम्यूनिटी सर्विस कर कोर्ट के पचड़ों से बच पाएंगे। 

'टाइम्स ऑफ इंडिया' की रिपोर्ट के मुताबिक, मोटर विहिकिल एक्ट कानून में सुधार का प्रस्ताव किया गया है। जो बुधवार शाम को कैबिनेट में बातचीत के लिए पेश किया गया। कानून में बदलाव के प्रस्ताव को अगले हफ्ते मंजूरी मिल सकती है और चल रहे संसद सत्र में इसे पेश किया जाएगा। 

- प्रस्तावित कानून में ट्रैफिक लाइट जंप करने, सीट बेल्ट या हैलमेट ना पहनने पहली बार 1,000 रुपए जुर्माना है।  - लेकिन ऑफेंडर को पुलिस को कोर्ट कचहरी से बचने के लिए पुलिस को 2,000 रुपए देने होंगे।  - इसी तरह हॉन्किंग के लिए 500 रुपए की जगह 1,000 रुपए देने होंगे। इसी तरह दूसरे अपराधों के लिए भी इसी तरह की व्यवस्था होगी। - हाई-स्पीड से गाड़ी चलाने पर प्रस्तावित सुधार में 5,000 रुपए जुर्माना और इसके बाद गलती दोहराने पर 10,000 रुपए जुर्माना और दो साल की जेल हो सकती है। - ड्रंक ड्राइविंग के लिए पहली बार 6 महीने जेल और 5,000 रुपए जुर्माने का प्रस्ताव है। जबकि दूसरी बार 12 महीने जेल और 10,000 रुपए जुर्माना। - ऐसे ऑफेंडर्स को लाइसेंस रखने से भी रोका जाएगा।  - ज्यादातर अपराधों के लिए कंपलसरी ड्राइवर ट्रेनिंग का भी प्रस्ताव है।