फिर बेनकाब हुआ झूठ पाकिस्तान, खुलेआम चल रहे हाफिज के संगठन

नई दिल्ली (24 फरवरी): एक बार फिर पाकिस्तान की पोल दुनिया के सामने खुल गई है। भले ही पाकिस्तान आतंकवाद और आतंकी संगठन पर पाबंदी लगाने की बात कहता हो, लेकिन ये सच है कि वहां पर यह अभी भी खुलेआम चल रहे हैं।

Offices and charities run by banned organisations Jamaat-ud-Dawah (JuD) and Falah-e-Insaniat (FIF) active in Pakistan's Bhawalpur, Rawalpindi, Lahore, Sheikhupura, Multan, Peshawar, Hyderabad, Sukkur and Muzaffarabad. These charities are headed by Lashkar-e-Taiba's Hafiz Saeed. pic.twitter.com/0JINOYfVK2

— ANI (@ANI) February 24, 2018

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज के संगठन जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इनसानियत पर पाकिस्तान ने प्रतिबंधित लगाने का दावा किया था, लेकिन इसके कई दफ्तर पाकिस्तान के भावलपुर, रावलपिंडी, लाहौर, शेखुपुरा, मुल्तान, पेशावर, हैदराबाद, सुक्कूर और पाक अधिकृत कश्मीर के मुजफ्फराबाद में खुलेआम चल रहे हैं।

जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इनसानियत का नेतृत्व खूंखार आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद के हाथों में है। पाकिस्तान सरकार की ओर से हाफिज के संगठनों पर बैन के प्रयास की वजह यह है कि इस्लामाबाद को उम्मीद है कि जमात-उद-दवा (जेयूडी) और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) की चैरिटी संस्थाओं को नियंत्रित करने से वह ग्लोबल वॉच लिस्ट में शामिल होने से बच सकता है।