जॉर्डन: इस्लाम विरोधी कार्टून पोस्ट करने पर लेखक की SC में हत्या

अम्मान (25 सितंबर): जॉर्डन के मशहूर राइटर नाहिद हट्टार की सुप्रीम कोर्ट के सामने गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। नाहिद खुद के खिलाफ एक मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट आए थे। हमलावर ने उन्हें करीब से तीन गोलियां मारी, जिसके बाद मौके पर ही उनकी मौत हो गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है। नाहिद के खिलाफ फेसबुक अकाउंट पर इस्लाम विरोधी कार्टून पोस्ट करने का आरोप था।

क्या है मामला... - जॉर्डन की न्यूज एजेंसी ‘पेट्रा’ ने नाहिद के कत्ल की पुष्टि की है। एजेंसी के मुताबिक, नाहिद ने कुछ दिनों पहले अपने फेसबुक अकाउंट पर एक कार्टून पोस्ट किया था। - इस पोस्ट के बाद ISIS और कट्टरपंथी उनसे बेहद खफा थे। नाहिद के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी हुए थे। - विरोध बढ़ते देख जॉर्डन के पीएम हानी मुल्की ने नाहिद के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे। इसी मामले की सुनवाई करने वाले जांच आयोग के सामने पेशी के लिए नाहिद सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे।

कैसे हुई हत्या? - न्यूज एजेंसी के मुताबिक, हमलावर नाहिद का उनके घर से ही पीछा कर रहा था। वो जैसे ही सुप्रीम कोर्ट पहुंचे और कार से उतरे। हमलावर ने बेहद करीब आकर उनको तीन गोलियां मारीं। हट्टार वहीं गिर गए, उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। - आरोपी मौके से भागने की कोशिश कर रहा था, लेकिन वहां मौजूद सिक्युरिटी एजेंसीस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसकी पहचान सार्वजनिक नहीं की गई है। उम्र 50 साल के करीब बताई गई है। वो अरबी कॉस्टयूम में था।

कौन थे नाहिद हट्टार? - नाहिद मजहबी तौर पर क्रिश्चियन और जॉर्डन के मशहूर राइटर थे। उन्होंने सीरिया के प्रेसिडेंट बशर अल असद का समर्थन किया था। असद पर अपने ही नागरिकों के खिलाफ हवाई हमले करवाने का आरोप है। - कार्टून पोस्ट करने के बाद उन्हें पिछले महीने गिरफ्तार भी किया गया था। नाहिद ने पोस्ट पर माफी मांगते हुए कहा था कि उनका इरादा धार्मिक भावनाएं भड़काने का नहीं था।