आतंक से निपटने में दूसरे देशों का साथ दे पाकिस्तान: जॉन केरी

नई दिल्ली (31 अगस्त): अमेरिकी विदेशमंत्री जॉन केरी ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका, भारत और अफगानिस्तान के साथ अगले महीने न्यूयॉर्क में होने जा रही संयुक्त राष्ट्रों की बैठक में त्रिपक्षीय वार्ता शुरू करेगा। इसके लिए पहले रणनीतिक वार्ता नई दिल्ली में होगी। इस मौके पर उन्होंने आतंक को बढ़ावा देने के आरोपों से घिरे पाकिस्तान को भी नसीहत दी।

एक न्यूज कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए जॉन केरी ने आतंकवाद की भी निंदा की। उन्होंने कहा कि भारतीय जमीन पर 2008 में मुंबई और जनवरी में पठानकोट एयरबेस पर हमलों को अंजाम देने वाले षडयंत्रकारियों को इंसाफ के तहत लाना होगा।

केरी ने कहा- "हम अच्छे और बुरे आतंकियों का फर्क नहीं कर सकते। हम ना ही करेंगे। आतंक- आतंक होता है, इससे फर्क नहीं पड़ता कि ये कहां से आता है या इसे कौन लाता है।"

गौरतलब है, भारत ने दोनों हमलों के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराया है। पाकिस्तान की तरफ से कराए गए मुंबई हमलों में 166 लोगों की मौत हुई थी। जबकि, इस साल एयरबेस पर हुए हमले की जांचों के नतीजे भी कारगर नहीं साबित हुए हैं।

केरी ने पाकिस्तान से आतंकवाद से निपटने के लिए दूसरे देशों का साथ देने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद को अमेरिका-भारत-अफगानिस्तान की त्रिपक्षीय वार्ता योजना से अकेला महसूस नहीं करना चाहिए।