जोधपुर में दूल्हा बेकरार, कराची में दुल्हन को वीजा का इंतजार

 

नई दिल्ली(8 अक्टूबर): कहते है कि जोड़ी उपर बैठा भगवान बनाता है और भगवान ने ही यह दुनिया बनाई है। लेकिन इंसानों ने बनाई इस दुनिया में सरहदे, अब यह सरहदे भगवान के काम में भी दखल अंदाजी करने लगी है। दरअसल उरी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच पैदा हुए तनाव के बीच जोधपुर के नरेश टेवानी की शादी अटकी हुई है। उसे इंतजार है अपने हमसफर प्रिया का जो पाकिस्तान के कराची शहर में रहती है।

-सर्जिकल स्ट्राइक के बाद प्रिया और उसके परिवार को अभी तक वीजा नहीं दिया गया है। जिसके चलते दोनों परिवार की धड़कने अटकी हुई है।

- दरअसल जोधपुर के नरेश टेवानी का रिश्ता तीन साल पूर्व कराची में रहने वाले एक डाक्टर की पुत्री प्रिया से साथ तय हुआ। प्रिया के परिवार ने तीन माह पहले भारत आने के लिए वीजा का आवेदन किया था लेकिन दोनों देशों के बीच चल रहे तनाव के कारण वीजा अभी तक नहीं दिया गया। जिसके चलते जिन चेहरों पर हंसी,खुशी और उमंगे होनी चाहिए, उन्हीं चेहरों पर चिंता की लकीरे स्पष्ट दिखाई दे रहीं है।

- नरेश अपनी प्रिया को भारत आने की इजाजत दिलवाने के लिए भारत सरकार से गुजारिश कर रहा है। नरेश ने सोशियल मिडिया का स्तेमाल करते हुए ट्विटर, फेसबुक के जरीए भी सरकार तक अपनी बात पहुंचाने की कोशिश की है। - अक्सर दूल्हा बारात लेकर ससुराल जाता है लेकिन सिंध प्रान्त के रिवाज के अनुसार दुल्हन खुद चलकर ससुराल आती है और फिर सात फेरे लिए जाते है । लेकिन इस बार दुल्हन पाकिस्तान में और दूल्हा हिन्दुस्तान में, इस बीच दोनों मुल्कों में आये तनाव के बाद दुल्हन पाकिस्तान से भारत आने की इजाजत मांग रही है लेकिन पाकिस्तान ने अब तक दुल्हन प्रिया को इस बात की इजाजत नहीं दी है ।

- नरेश के पिता ने बताया कि हमने शादी के कार्ड छपवा दिए।  कुछ मांगलिक कार्यक्रम शुरू हो गए लेकिन 45 दिन ही नहीं दो महीने बीत चुके लेकिन पाकिस्तान ने प्रिया और उसके परिवार को अब तक वीजा नहीं दिया है ।