JNU प्रकरणः कन्हैया समेत पांच के निष्कासन की सिफारिश

नई दिल्ली (15 मार्च):  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय उच्चस्तरीय जांच समिति ने छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया समेत 21 छात्रों को दोषी माना है। साथ ही कन्हैया, उमर खालिद, अनिर्बान और दो अन्य छात्रों को निकालने की सिफारिश की है। जांच समिति ने सभी को कारण बताओ नोटिस जारी कर 16 मार्च तक जवाब मांगा है। समिति ने अपनी रिपोर्ट विश्वविद्यालय के कुलपति एम. जगदेश कुमार को सौंपी थी।

पांच सदस्यीय समिति ने अपनी सिफारिशें जेएनयू के अनुशासन और उचित व्यवहार से संबंधित नियमों के आधार पर की हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जिन 21 छात्रों को दोषी माना है उनमें छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, संयुक्त सचिव सौरभ शर्मा, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य शामिल हैं। इस पर एबीवीपी  ने कहा, हम समिति के निर्णय का स्वागत करते हैं और जेएनयू प्रशासन से मांग करते हैं कि जांच रिपोर्ट सार्वजनिक की जाये।