JNU के प्रॉक्टर ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली (5 मार्च): जेएनयू में लगे कथित देश विरोधी नारों के मामले को लेकर जेएनयू में ही मतभेद बढ़ता दिख रहा है। अब जेएनयू के चीफ प्रॉक्टर कृष्ण कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्रॉक्टर कृष्ण कुमार पूरे मामले पर जेएनयू प्रशासन की कार्रवाई और अपनी अनदेखी से असंतुष्ट थे। इसी वजह से उन्होंने 29 फरवरी को ही अपना इस्तीफा दे दिया।

मिली जनाकारी के अनुसार जेएनयू में लगे देश विरोधी नारों की जांच के लिए 11 फरवरी को जेएनयू प्रशासन द्वारा कमेटी का गठन किया गया था। इसकी अगुवाई खुद कृष्ण कुमार कर रहे थे। इस बीच प्रशासन ने एक और उच्च स्तरीय समिति का का गठन कर दिया। जिसने पहले वाली समिति का स्थान ले लिया। यही नहीं कृष्ण कुमार से कन्हैया कुमार और उनके साथी छात्र अनिर्बान भट्टाचार्य, श्वेता राज, उमर खालिद, अनंत प्रकाश, रामा नागा, ऐश्वर्या अधिकारी और आशुतोष कुमार को सस्पेंड करने के लिए पत्र पर हस्ताक्षर कराए गए थे। यही कारण था कि कृष्ण कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा कि इस मामले में उनका गलत इस्तेमाल हुआ।