ड्यूटी के दौरान शहीद हुए जवानों के परिजनों को एक करोड़ देने का लक्ष्य- राजनाथ सिंह

श्रीनगर (10 सितंबर): केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के चार दिवसीय जम्मू-कश्मीर के दौरे का आज दूसरा दिन है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह राज्य की समस्याओं का हल तलाशने के लिए ये दौरा कर रहे है। अपने इस दौरे के दौरान गृहमंत्री राज्य के तमाम प्रतिनिधिमंडलों से मुलाकात कर रहे हैं और राज्य में शांति बहाली के उपायों पर चर्चा कर रहे हैं।

इसी कड़ी गृहमंत्री ने आज  CRPF के 90वीं बटालियन के खनबल मुख्यालय पर आयोजित सैनिक सम्मेलन हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य ड्यूटी के दौरान मारे गए केंद्रीय सशस्त्र बलों के कर्मियों के परिवारों को एक करोड़ रुपये की आर्थिक राहत देने का है। केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, 'यह मेरा लक्ष्य है कि केंद्रीय सशस्त्र बल के शहीद के परिवार को कम से कम एक करोड़ रुपये की आर्थिक राहत दी जाए।'

साथ ही उन्होंने कहा कि हम जम्मू एवं कश्मीर में CRPF को हेलीकॉप्टर सेवाएं देने पर विचार कर रहे हैं। विद्रोही गतिविधियों के दौरान ड्यूटी में CRPF कर्मियों की वीरता की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि हमें अपने CRPF कर्मियों पर गर्व है। साहस किसी बाजार से नहीं खरीदा जा सकता। आप अविश्वसनीय व बेजोड़ साहस के साथ पैदा हुए हैं।