महबूबा सरकार का बड़ा फैसला, 9730 पत्थरबाजों के खिलाफ वापस होगा केस

श्रीनगर (3 फरवरी): पत्थरबाजों को लेकर महबूबा सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री महबूबा ने राज्य में 2008 से 2017 के बीच पथराव की घटनाओं में शामिल 9730 लोगों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने के आदेश दिए हैं। जिन पत्थरबाजों के खिलाफ मामले वापस लिए जा रहे हैं, उनमें पहली बार अपराध करने वाले लोग भी शामिल हैं। 

गौरतलब है कि महबूबा सरकार ने ये फैसला उस वक्त लिया है जब राज्य में सैनिकों के खिलाफ FIR दर्ज करने के मामले पर जारी सियासी घमासान जोरों पर है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 3 नागरिकों की मौत के मामले में एक मेजर समेत 10 गढ़वाल राइफल के सैनिकों को आरोपी बनाया गया है। इसका काफी विरोध हो रहा है।

दरअसल, कुछ दिन पहले शोपियां में पत्थरबाजों की भीड़ ने सैनिकों के 4 वाहनों को घेर लिया था। सेना के सूत्रों ने बताया कि पत्थर फेंक रही भीड़ JCO को मारने के लिए बढ़ रही थी। कई बार चेतावनी देने के बाद भी जब पत्थरबाज शांत नहीं हुए तो मजबूरन सैनिकों को फायरिंग करनी पड़ी। इस पर राज्य विधानसभा में काफी हंगामा हुआ है। दूसरी तरफ, सैनिकों के खिलाफ FIR वापस लेने की मांग भी की जा रही है।