आतंकियों से मुठभेड़ में देश ने खोया एक और बेटा, हवलदार नरेंद्र की मौत

मुंबई (16 अगस्त): कश्मीर के उड़ी सेक्टर में 7 अगस्त 2017 को आतंकियों से लोहा लेते हुए घायल हुए सेना के जवान हवलदार नरेंद्र सिंह की इलाज के दौरान मौत हो गई है। जम्मू कश्मीर में तैनात फोर्थ गढ़वाल राइफल में सेवारत हवालदार नरेंद्र सिंह 7 अगस्त 2017 को आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ के दौरान गोली लग गई थी। बताया जा रहा है कि उनके सिर पर गोली लगी थी। जिसके बाद से जम्मू के मिलिट्री हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था। यहां बुधवार तड़के उन्होंने दम तोड़ दिया। 

शहीद का पार्थिक शरीर आज शाम तक उनके सेलाकुई स्थित आवास पर पहुंचेगा। शहीद नरेंद्र सिंह बिष्ट का पार्थिव शरीर हवाई जहाज से जौलीग्रांट एयरपोर्ट लाया जा रहा है। यहां से आज शाम तक उनके सेलाकुई स्थित आवास पर लाया जाएगा। सैन्य सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी जाएगी। शहादत की सूचना से घर में कोहराम मचा हुआ हैं।