#JashneYoungistan: युवाओं को नौकरी नहीं, मोदी सरकार जुमलेबाजी में लगी: जतिन प्रसाद


नई दिल्ली (27 नवंबर): न्यूज 24 के महा-मेगा इवेंट जश्न-ए-यंगिस्तान में पूर्व केंद्रीय मंत्री जतिन प्रसाद ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश के युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है, जबकि सरकार दूसरे मुद्दों पर ध्‍यान भटकाती है।

इसी के साथ जतिन प्रसाद ने जीएसटी को जल्दबाजी में उठाने वाला कदम बताते हुए यूपीए सरकार की सभी योजनाओं की आलोचना करके के बावजूद उन्हीं को आगे बढ़ाने पर मोदी सरकार को फटकारते हुए कहा कि सरकार विकास के नाम पर नहीं, बल्कि दूसरे मुद्दों को आगे करके चुनाव जीतती है।

मुख्य बातें...
- हम कभी भी यह वादा करके सरकार में नहीं आए कि हम रोजगार देंगे, हमने सिर्फ काम करके दिखाया।
- इस सरकार के ऊपर भी भ्रष्‍टाचार लगे हैं, लेकिन यह सिर्फ विपक्ष के नेताओं पर जांच करते हैं। बीजेपी और इनके सहयोगी पार्टी के लोग दूध के धुले नहीं है।
- हम विदेशी कंपनियों की महरबानी पर निर्भर हैं।
- मनरेगा हम लाए और यह सरकार उसी को आगे बढ़ाकर अपनी तारीफ करती है।
- गुजरात चुनावों में पता चल जाएगा कि एनडीए सरकार ने वहां के लोगों को क्या दिया।
- सरकार विकास के नाम पर नहीं, बल्कि दूसरे मुद्दों को आगे करके चुनाव जीतती है।
- हम 10 साल तक रहे, लेकिन इन्होंने लोगों को सिर्फ सपने दिखाए और चुनाव जीता।
-  इनके मंत्री बोलते हैं कि मोदी जी को कुछ कहोगे तो हाथ काट देंगे, मूलभूत मुद्दों से लोगों का ध्यान हटाया जा रहा है।
- हमें गांवों में जाकर देखना होगा कि युवाओं की दशा में क्या सुधार हुआ।
- अब विदेशी एजेंसी यह तय करेगी कि हमारे देश की क्या हालत है, सरकार असल मुद्दा छिपाती है कि नौकरी कितने लोगों को मिली।
- विदेश की सभी एजेंसी मानती है कि देश में क्रांति आई है।
- दुनिया की दूसरी एजेंसी भी बताती हैं कि मोदी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है
-  इस सरकार ने बिना तैयारी के जीएसटी को उतारा।
-  रोजाना 30 हजार युवा मार्किट में आता है, लेकिन यह सरकार अभी तक नौकरी नहीं दे पा रही है।
-  सरकार ने कहा था कि हर सांसद एक गांव को गोद लेगा, लेकिन बताएं कि अभी तक कितने गांवों का सुधार हुआ है।
- सरकार बताए कि उसने अभी तक कितने गांवों और शहरों में नौकरी दी।