टेलिकॉम बाजार में खलबली, 0 रु कीमत वाला जियोफोन देगा जोर का झटका

नई दिल्ली ( 22 जुलाई ): रिलायंस ने अपना 'फ्री' जियोफोन लाॅन्च कर दिया है जिसके बाद पूरी टेलिकॉम बाजार में खलबली मच गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रिलायंस के नए सस्ते 4G डिवाइस से सबसे ज्यादा झटका भारतीय फीचरफोन निर्माताओं माइक्रोमैक्स, इंटेक्स, लावा और कार्बन के साथ मार्केट की लीडिंग कम्पनी सैमसंग को भी लगने वाल है। रिलायंस के इस फोन से टक्कर के लिए बड़ी कंपनियां भी इस तरह का ऑफर देने के लिए मजबूर हो सकती हैं। खबर है, कि दूसरी हैंडसेट निर्माता कम्पनियां भी अपने सस्ते 4G डिवाइस लाने की तैयारी में जुट गई हैं।

जियो ने फैसला किया है कि वह यह नया फोन यूजरों को मुफ्त में देगी। इस फोन के लिए यूजरों को कंपनी में 1500 रुपये सिक्यॉरिटी मनी जमा करनी होगी। 3 साल बाद फोन वापस करने पर यह पैसा वापस मिल जाएगा। मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि इस प्लान से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए अब दूसरी कंपनियों को भी इसी तरह के ऑफर लाने होंगे।

माना जा रहा है कि अधिकतर हैंडसेट निर्माताओं ने अपने कम कीमत वाले 4G डिवाइसेज पर काम करना शुरू कर दिया है और अपने बेसिक फोनों में भी फीचर बढ़ाने शुरू कर दिए हैं। अब वे टेलिकॉम सर्विस प्रवाइडरों से हाथ मिलाकर जियो का सामना करने की जुगत में हैं।

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने यह 4G वाला स्मार्टफोन लॉन्च किया है। इसके साथ आजीवन फ्री वॉयस कॉल्स और 153 रु के मासिक रीचार्ज पर डेटा दिया जाएगा। इस प्लान का टारगेट भारत के 50 करोड़ से ज्यादा बेसिक फोन यूजर हैं। फोन लेते वक्त यूजरों को 1500 रु जमा करने होंगे जिन्हें 3 साल बाद कम्पनी लौटा देगी। लेकिन, उतने वक्त में यूजर इस जियो सर्विस डिवाइस में किसी और ऑपरेटर का कनेक्शन नहीं ले सकेंगे।