जिन्ना नहीं चाहते थे पारसी से शादी करे बेटी, दीना ने ऐसे की थी बोलती बंद

मुंबई (3 नवंबर): मुसलमानों के लिए अलग देश पाकिस्तान की मांग करने वाले मोहम्मद अली जिन्ना की इकलौती बेटी दीना वाडिया का 98 साल की उम्र में निधन हो गया। जिन्ना नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी किसी पारसी से शादी करे, लेकिन दीना के एक जवाब ने उनकी बोलती बंद कर दी थी।

दरअसल दीना मुंबई (तब बॉम्बे) के फेमस पारसी परिवार के लड़के नेविल नेस वाडिया से शादी करना चाहती थीं। दीना से इस शादी के लिए अपने पिता मोहम्मद अली जिन्ना से बात की। जिन्ना इसे सुनकर क्रोधित हो गए। जिन्ना ने कहा कि भारत में लाखों मुस्लिम लड़के हैं। उन्होंने कहा कि उन लड़कों में से किसी को चुनकर शादी कर लो। पिता जिन्ना की इस बात पर दीना ने भी पलटकर जवाब दिया।

दीना ने जिन्ना से कहा, 'भारत में लाखों मुस्लिम लड़कियां थीं। आपने उनमें से किसी एक से शादी क्यों नहीं की?' दरअसल जिन्ना ने खुद मुस्लिम होने के बावजूद मुस्लिम लड़की से शादी नहीं की थी। जिन्ना ने एक पारसी लड़की रतनबाई उर्फ रूटी से ब्याह रचाया था। दीना वाडिया ने तब नेविल से शादी की जब जिन्ना भारत में मुसलमानों का नेता बनने की कोशिश में जुटे हुए थे।

98 साल की उम्र में दीना का न्यू यॉर्क में गुरुवार को निधन हो गया। दीना वाडिया के परिवार में बेटे नुस्ली वाडिया, डायना वाडिया और पोते नेस और जहांगीर वाडिया हैं। दीना वाडिया ने भारत विभाजन के पश्चात भारत में ही रहने का फैसला लिया था। हालांकि बाद में वह अमेरिका में ही बस गई थीं