सच तो ये है... कायदे आजम की बेटी को पाकिस्तान कुबूल नहीं !

नई दिल्ली (25 सितंबर): मुहम्मद अली जिन्ना एक ऐसा पाकिस्तान बनाना चाहते थे, जहां सभी मुसलमान रह सकें। लेकिन 90 फीसदी भारतीय मुसलमानों ने पाकिस्तान नहीं जाकर जिन्ना की सोच को गलत साबित कर दिया। जिन्ना को सबसे बड़ा झटका उनकी अपनी बेटी दीना  ने दिया। जिन्ना के नहीं चाहने के बाद भी दीना ने मुस्लिम की बजाय एक पारसी बिजनेसमैन से शादी की। यही नहीं देश के विभाजन के बाद जब जिन्ना पाकिस्तान गए और उसके फाउंडर बने तो भी दीना ने पाकिस्तान की बजाय हिंदुस्तानी बनकर हिंदुस्तान में ही रहना पसंद किया और आज भी भारत में रही रहती हैं...