जिग्नेश मेवाणी ने लगाया जान से मारने की धमकी का आरोप, शिकायत दर्ज

नई दिल्ली (7 जून): गुजरात की वडगाम विधानसभा सीट से विधायक और दलितों के चिंतक कहे जाने वाले जिग्नेश मेवाणी ने आरोप लगाया है कि एक शख्स ने उन्हें गोली मारने की धमकी दी है। मेवानी ने कहा कि बुधवार की दोपहर एक मोबाइल फोन के जरिए मेवाणी के सहयोगी कौशिक परमार को यह धमकी मिली। परमार ने इस सिलसिले में बनासकांठा जिले के वडगाम में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस सब-इंस्पेक्टर आर पी जाला के मुताबिक वडगाम में मेवाणी का दफ्तर परमार ही संभालता है। उसकी शिकायत के आधार पर हमने कॉल करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। आपको बता दें कि कॉल करने वाले की पहचान राजवीर मिश्रा के तौर पर हुई है। 

जाला ने कहा कि मिश्रा ने कथित तौर पर परमार को फोन किया और मेवाणी को गोली मारने की धमकी दी। आपको बता दें कि आईपीसी की धारा 507 के तहत केस दर्ज किया गया है। बाद में मेवाणी ने ट्वीट किया, ‘‘मेरे सहकर्मी कौशिक परमार ने अभी मुझे बताया है - कोई राजवीर मिश्रा का फोन था और बोला कि तुम अगर जिग्नेश मेवाणी हो तो तुम्हें गोली मार दूंगा।वहीं आपको बता दें कि मेवाणी ने यह आरोप भी लगाया कि फेसबुक और ट्विटर पर उन्हें पहले भी ऐसी धमकियां मिलने के बावजूद गुजरात पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है।