झारखंड में महिला की भूंख से तड़प-तड़प कर हुई मौत

नई दिल्ली (5 जून): 21वीं सदी का ये लोकतंत्र जैसे-जैसे रोज नए आयाम गढ़ रहा है वैसे-वैसे इस देश में भुखमरी का आलम भी व्यापक स्तर पर दिखाई दे रहा है।झारखंड में भूख के कारण एक और महिला की मौत की खबर है। यहां के चतरा जिले में 45 वर्षीय मीना मुसहर की कथित तौर पर भूख से मौत हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने पिछले चार दिनों से कुछ भी नहीं खाया था।जानकारी के लिए आपको बता दें कि मीना मुसहर मूल रूप से बिहार की गया की रहने वाली थीं, लेकिन काफी समय से चतरा में ही रहती थीं।उनके बेटे गौतम ने बताया कि उसने और उनकी मां ने पिछले 4 दिनों से कुछ नहीं खाया था। जिसके बाद उनकी तबीयत बिगड़ गई थी, लेकिन इलाज और दवा के पैसे नहीं थे।गौतम ने बताया कि वह अपने कंधे पर जब अपनी मां को लादकर अस्पताल ले गए तब डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। हमारे देश की सरकार कौन सा नया सपना देखने की बात कर रही है?एक तरफ तो हम देश की पटरी पर बुलेट ट्रेन चलाने का दावा ठोक रहे हैं तो दूसरी तरफ आलम यह है कि लोग दो जून की रोटी के लिए मोहताज हैं।