झारखंड सरकार का फरमान, रंगीन कपड़े और रंगीन चश्मा पहन हाईकोर्ट नहीं जा सकेंगे अधिकारी

नई दिल्ली ( 7 जून ): झारखंड सरकार ने ड्रेस को लेकर झारखंड हाईकोर्ट की टिप्पणी को गंभीरता से लिया है। राज्य सरकार ने अधिकारियों और कर्मचारियों को अब जींस, रंगीन कपड़े पहनकर व रंगीन चश्मा लगा कर हाईकोर्ट में जाने पर रोक लगा दी है।


राज्य कार्मिक प्रशासनिक सुधार विभाग ने आदेश जारी कर कहा कि हाईकोर्ट में मुकदमों को लेकर गवाही के लिए जाने वाले अधिकारी और कर्मचारी ऐसे कपड़ों का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। आदेश में कहा गया कि कपड़े हाईकोर्ट की गरिमा को देखते हुए पहने जाएं।


दरअसल बीते दिनों एक मामले में स्पष्टीकरण के लिए कोर्ट में उपस्थित हुई झारखंड की मुख्य सचिव ने रंगीन साड़ी पहन रखी थी, जिसे लेकर हाईकोर्ट ने टिप्पणी की थी।


हाई कोर्ट की इस टिप्पणी को देखते हुए कार्मिक प्रशासनिक सुधार विभाग ने आदेश जारी कर यह पाबंदी लगाई है। इस मामले में राज्य के महाधिवक्ता ने भी सरकार को एक पत्र लिख कर अनुरोध किया है। पत्र में यह भी कहा गया है कि किसी भी परिस्थिति में कोई पदाधिकारी या कर्मचारी न्यायालय में कैजुअल ड्रेस में उपस्थित नहीं हो। किसी भी परिस्थिति में ऐसे कपड़े न पहने जिससे हाईकोर्ट की गरिमा को ठेस पहुंचे।