विधायक की मांग-'विधानसभा में खुलवा दो शराब की दुकान'

रांची(13 दिसंबर): झारखंड में जेएमएम के एक विधायक की अजीबो-गरीब मांग पर सियासी बवाल मच गया है। मामला शराब की दुकानों का है। बीजेपी का दावा है कि झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक ने विधानसभा के भीतर शराब की दुकान खोलने की मांग की है जिससे उन्हें शराब खरीदने में दिक्कत ना हो। वहीं जेएमएम सहित तमाम विपक्षी दल इसे बात का बतंगड़ करार दे रहे हैं।

- झारखंड मुक्ति मोर्चा के बहरागोड़ा से विधायक कुणाल षाडंगी ने ये मांग की है। इस बयान पर जमकर बवाल मचा। दरअसल झारखंड में 1 अगस्त से राज्य सरकार ने शराब वितरण और बिक्री की नई व्यवस्था लागू की है। पहले शराब के दुकानों की नीलामी होती थी लेकिन अब नयी व्यवस्था के तहत शराब के दुकानों पर सरकार का पूरा नियंत्रण हो गया है। सरकार ने शराब बेचने के लिए वेतन पर बकायदा कर्मचारियों की नियुक्ति कर रखी है। 

- झारखंड मुक्ति मोर्चा के बहरागोड़ा विधायक कुणाल का दावा है कि उन्होंने सरकार की नई शराब नीति पर तंज कसा था। उन्होंने शराब की दुकान खोलने की कोई मांग नहीं की थी। लेकिन बीजेपी उनके व्यंग्य को गलत ढंग से पेश कर रही है। 

-उधर कांग्रेस का दावा है कि विरोधियों को नीचा दिखाने के लिए बीजेपी साजिश रच रही है और जानबूझकर बात का बतंगड़ बना रही है। इसकी आड़ में बड़े मुद्दों पर वो जवाब देने से बचना चाहती है।