जेट एयरवेज का जूनियर पायलटों को झटका, सैलरी में हो सकती है भारी कटौती

मुंबई (24 जुलाई): जेट एयरवेज ने अपने जुनियर पायलटों को बड़ा झठका दे सकता है। बताया जा रहा है कि एयरलाइंस अपने जुनियर पायलटों की सैलरी में 30 से 50 फीसदी तक कटौती का प्लान बना रहा है। बताया जा रहा है कि इस सिलसिले में जेट प्रबंधन ने जूनियर पायलटों को हर महीने में 10 दिन का ऑफ लेने को कहा गया है, जिसके नतीजे के तौर पर जूनियर पायलटों की सैलरी में 30 फीसदी की कटौती होगी। लागत में कटौती लाने के लिए यह कदम उठाया गया है। यह व्यवस्था 1 अगस्त 2017 से प्रभावी होगी।

जेट एयरवेज की पायलट यूनियन नेशनल ऐविएटर्स गिल्ड यानी NAG के मुताबिक पायलटों से कहा गया है कि वे स्टाइपेंड या फिर सैलरी में कटौती के लिए तैयार रहें या फिर वह नौकरी छोड़ सकते हैं। कंपनी ने कहा कि जेट एयरवेज ने लागत घटाने, विमानों के बेड़े को मजबूती देने और नेटवर्क को मजबूत करने के लिए यह कदम उठाया है। 

जेट एयरवेज में 200 से ज्यादा जूनियर पायलट हैं, जिनकी अभी ट्रेनिंग चल रही है। सूत्रों ने बताया कि NAG इस मामले को जल्द मैनेजमेंट के समक्ष उठाएगा। UAE के एतिहाद एयरवेज के मालिकाना हक वाली यह कंपनी इंटरनैशनल मार्केट में तेल की कीमतें कमजोर होने के चलते रेवेन्यू के संकट से गुजर रही है।