नागरिकता संशोधन बिल का राज्यसभा में विरोध करेगी JDU

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (20 जनवरी):  जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल जनता दल युनाइटेड राज्यसभा में नागरिकता (संशोधन) विधेयक का विरोध करेगी। केसी त्यागी ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी पहले से चले आ रहे विवादास्पद मुद्दों को लेकर अपने पुराने रुख पर कायम है और नागरिकता अधिनियम में संशोधन के लिए लाए जा रहे विधेयक का राज्यसभा में विरोध करेगी। जेडीयू के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में पटना में रविवार को पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों की हुई एक बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने यह जानकारी दी।

केसी त्यागी ने बताया, ‘समाजवादी आंदोलन की विरासत का सवाल है, चाहे वह धारा 370 हो, यूनिफॉर्म सिविल कोड हो या रामजन्म भूमि विवाद हो। पार्टी अपने पुराने स्टैंड पर कायम है। जेडीयू राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध करेगी।’ उन्होंने कहा कि लोकसभा में जिस प्रकार कांग्रेस ने इस विधेयक को लेकर सदन से वॉकआउट किया था, वह भी अप्रत्यक्ष रूप से इस विधेयक समर्थन ही है। त्यागी ने कहा कि कांग्रेस को इस मामले में स्पष्ट रुख रखना चाहिए। त्यागी ने कहा कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारणी की बैठक फरवरी में हेागी, जिसमें लोकसभा चुनाव से संबंधित सारे फैसले लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि लेाकसभा चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवारों के नाम तय करने के लिए तीन वरिष्ठ नेताओं जिनमें राज्य पार्टी के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, मंत्री ललन सिंह और विजेंद्र यादव है, को उम्मीदवारों के चयन के संबंध में फैसला लेने के लिए अधिकृत किया गया है।

जेडीयू नेता ने बताया कि इसी महीने पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल असम जाएगा। जेडीयू का प्रतिनिधिमंडल वहां संघर्ष कर रहे लोगों के अलावा, आम जनता और सिविल सोसायटी के लोगों से मुलाकात करेगा। त्यागी ने बताया कि इस प्रतिनिधिमंडल में उनके साथ पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर और उत्तर-पूर्वी राज्यों के जेडीयू के वरिष्ठ नेता एस लोथा और आफाक अहमद शामिल होंगे।